Informative

कंप्यूटर इंजीनियरिंग क्या है और इसके फायदे

नमस्कार दोस्तों क्या आप कंप्यूटर इंजीनियरिंग क्या है – What is Computer engineering in Hindi के बारे में जानना चाहते हैं तो आपके लिए यह पोस्ट काफी लाभान्वित हो सकती है. इस पोस्ट में आपको मैं कंप्यूटर इंजीनियरिंग से संबंधित जानकारी से रूबरू कराऊंगा

दोस्तों इंटरनेट और टेक्नोलॉजी के इस दौर में कंप्यूटर लगभग हर क्षेत्र में प्रयोग हो रहा है और इस क्षेत्र में कई विद्यार्थियों की रुचि भी बढ़ रही है तथा कई विद्यार्थी कंप्यूटर से संबंधित कोर्स के बारे में भी जानना चाहते हैं. आज हम इंजीनियरिंग के क्षेत्र में सबसे लोकप्रिय साइंस इंजीनियरिंग कंप्यूटर इंजीनियरिंग के बारे में जानेंगे

कंप्यूटर इंजीनियरिंग क्या है – Computer engineering in Hindi

कंप्यूटर साइंस इंजीनियरिंग क्या है - What is computer engineering

कंप्यूटर हार्डवेयर और सॉफ्टवेयर के बारे में Study करने को कंप्यूटर इंजीनियरिंग कहा जाता है. हार्डवेयर यूं कहें कि जिन्हें आप देख सकते हैं और छू सकते हैं

अगर उदाहरण के तौर पर समझाऊं तो जैसे सीपीयू, माउस, की-बोर्ड इन सभी चीजों को हार्डवेयर कहते हैं तथा इन सभी चीजों के बारे में जो कुछ सिखाया जाता है यह कंप्यूटर इंजीनियरिंग के अंतर्गत आता है. इसे हार्डवेयर इंजीनियरिंग भी कहा जाता है

और अगर दूसरे छोर की बात करूं जो कि सॉफ्टवेयर है. तो सॉफ्टवेयर को आप देख नहीं सकते और छू नहीं सकते. कंप्यूटर और मोबाइल में उपलब्ध सभी प्रकार के सिस्टम, एप्लीकेशन आदि भी सॉफ्टवेयर के अंतर्गत ही आते हैं

इसके अंतर्गत विभिन्न तरह की प्रोग्रामिंग भाषाएं आती है जिन्हें कि आपको सीखना पड़ेगा. मोबाइल एप्लीकेशन इसका सबसे अच्छा उदाहरण है. किसी भी एप्लीकेशन को कैसे डिजाइन करना है, कैसे मॉडिफाई करना है यह सब कंप्यूटर इंजीनियरिंग के अंतर्गत ही सीखने को मिलता है

कंप्यूटर इंजीनियरिंग किसे कहते है

अगर मैं आसान शब्दों में आपको कंप्यूटर इंजीनियरिंग की परिभाषा समझाऊं तो वह कुछ इस प्रकार होगी कि – कंप्यूटर हार्डवेयर और कंप्यूटर सॉफ्टवेयर का अध्ययन कंप्यूटर इंजीनियरिंग कहलाता है

कंप्यूटर इंजीनियरिंग की शुरुआत लगभग 40वी दशक में हुई थी. लेकिन कंप्यूटर इंजीनियरिंग को 70वी दशक में लोकप्रियता हासिल हुई जब कि सेमीकंडक्टर और ट्रांजिस्टर का आविष्कार हुआ था यह वह समय था जब कंप्यूटर अधिक चर्चा में आए थे और इसके बाद लगातार इस क्षेत्र में प्रवृत्ति प्रतिदिन होती जा रही है

कंप्यूटर इंजीनियर कैसे बने

कंप्यूटर इंजीनियरिंग के इच्छुक इस प्रश्न से वंचित नहीं रह सकते यह जानना अति आवश्यक है कि कंप्यूटर इंजीनियर बनने के लिए क्या करना होगा तो दोस्तों मैं आपको आसान शब्दों में बताऊं तो अगर आपको कंप्यूटर इंजीनियर बनना है तो आपके पास दो विकल्प है

पहला विकल्प यह है कि यदि आप जल्दी कंप्यूटर इंजीनियर बनना चाहते हैं तो दसवीं के बाद आप तुरंत डिप्लोमा ले लीजिए. डिप्लोमा इन कंप्यूटर इंजीनियरिंग का कोर्स लगभग 3 साल का है इसे करने के बाद आप कंप्यूटर इंजीनियर बन जाएंगे

दूसरा विकल्प आपके पास यह है कि 12th साइंस करने के बाद 4 साल का डिग्री इन कंप्यूटर इंजीनियरिंग का कोर्स कर सकते हैं. इसके बाद आप आगे भी मास्टर डिग्री के लिए अप्लाई कर सकते हैं और पीएचडी भी आप कर सकते हैं

कंप्यूटर इंजीनियरिंग के फायदे – Advantages of Computer engineering in Hindi

  • जहां तक मेरा मानना है लड़कियों के लिए कंप्यूटर इंजीनियरिंग काफी उपयोगी है क्योंकि इसमें हार्ड वर्क ज्यादा नहीं करना पड़ता कहने का मतलब यह है कि आपको केवल एक सामने कंप्यूटर पर बैठकर कार्य करना होगा ना कि सिविल इंजीनियरों, मैकेनिकल इंजीनियरों जैसे दिनभर इधर उधर फिरते हुए कार्य करना होगा.
  • आधुनिक युग में लगभग कंप्यूटर इंजीनियरिंग की आवश्यकता हर जगह है इसीलिए इसमें काफी अच्छे जॉब प्रोफाइल भी है और जॉब मिलने में आसानी भी होगी.
  • आज के दौर में कंप्यूटर इंजीनियरिंग के कॉलेज लगभग सभी जगह उपलब्ध है इसीलिए कंप्यूटर इंजीनियरिंग के क्षेत्र में आपको ज्यादा अच्छा सीखने को मिल सकता है.
  • इसका सबसे अच्छा फायदा यह है कि विदेशों में कंप्यूटर इंजीनियर की बहुत अधिक मांग है. आप देख लीजिए अमेरिका, रसिया, न्यूजीलैंड, जापान आदि विकसित देशों में सबसे अधिक कंप्यूटर का ही उपयोग किया जाता है. जिसके लिए कंप्यूटर इंजीनियरों की बहुत सारी जॉब प्रोफाइल उपलब्ध है.
  • कंप्यूटर इंजीनियरिंग क्षेत्र में बहुत सारे सरकारी जॉब भी उपलब्ध है. मेरा मानना है कि कोरोना काल में वर्क फ्रॉम होम पर निर्भर केवल कंप्यूटर क्षेत्र ही है इसीलिए आने वाले समय के लिए यह एक अच्छा विकल्प हो सकता है.

संक्षेप में

मुझे उम्मीद है आपको कंप्यूटर इंजीनियरिंग क्या है – What is computer engineering in Hindi इसके बारे में जानकारी मिल गई होगी. अगर आपको इस जानकारी से कोई संदेह है तो आप बेझिझक कमेंट बॉक्स में अपना प्रश्न पूछ सकते हैं

इसी तरह की कई नई नई शिक्षा संबंधी जानकारियों को जानने के लिए MDS BLOG के साथ जरूर जुड़िए जहां की आपको हर तरह की जानकारी दी जाती है. यह पोस्ट पढ़ने के लिए आपका बहुत-बहुत धन्यवाद!

यह पोस्ट कितनी उपयोगी थी ?

Average rating / 5. Vote count:

अब तक कोई वोट नहीं, इस पोस्ट को रेट करने वाले पहले व्यक्ति बनें

MDS Thanks 😃

पोस्ट अच्छी लगी तो सोशल मीडिया पर हमें फॉलो करें

हमें खेद है कि यह पोस्ट आपके लिए उपयोगी नहीं थी !

हमें बताएं कि हम इस पोस्ट को कैसे बेहतर बना सकते हैं ?

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button

Please allow ads on our site !

Looks like you're using an ad blocker. We rely on advertising to help fund our site.