Educational

डायोड क्या है इसके प्रकार

दोस्तों क्या आप भी डायोड क्या है – What is Diode in Hindi जानना चाहते हैं. तो इस पोस्ट में आज आपको डायोड के बारे में जानकारी दी जाएगी. डायोड कितने प्रकार के होते हैं? डायोड के उपयोग यह सभी जानकारी आज आपको यहां दी जाएगी. तो आइए जानते हैं

डायोड क्या है – What is Diode in Hindi

डायोड क्या है - What is Diode in HindiDiode एक two-terminal electronic component है. जो मुख्य रूप से एक दिशा में बिजली का संचालन करता है. इसके एक सिरे पर उच्च प्रतिरोध और दूसरे सिरे पर कम प्रतिरोध होता है

Diode का उपयोग Voltage को सीमित करके Circuit की सुरक्षा के लिए और Alternating Current (AC) को Direct Current (DC) में बदलने के लिए किया जाता है

Diode बनाने के लिए आमतौर पर Silicon और Germanium जैसे Semi conductors का उपयोग किया जाता है. सभी प्रकार के Diodes एक ही दिशा में current को संचारित करते हैं लेकिन हर Diode अलग तरीके से इस काम को करता है. Diode विभिन्न प्रकार के होते हैं और प्रत्येक प्रकार के अपने प्रयोग होते हैं

डायोड का प्रतीक – Symbol of Diode

डायोड का प्रतीक - Symbol of Diodeएक Standard Diode Symbol को ऊपर के चित्र में दर्शाया गया है. चित्र में, हम देख सकते हैं कि Diode में दो terminal हैं जिन्हें एनोड और कैथोड के रूप में जाना जाता है. Arrowhead के रूप में एनोड को दिखाया गया है, जो forward biased condition में conventional current flow की दिशा को प्रदर्शित करता है. चित्र में दिखाया दूसरा सिरा कैथोड को दर्शाता है

Diode का Construction

Diode दो अर्ध चालक पदार्थों, सिलिकॉन और जर्मेनियम में से किसी एक से बने हो सकते हैं. जब एनोड वोल्टेज, कैथोड वोल्टेज से ज्यादा positive होता है तो उस Diode को forward-biased diode कहा जाता है

जब कैथोड वोल्टेज, एनोड वोल्टेज से अधिक positive होता है तो उस Diode को reverse-biased diode कहा जाता है. Diode Symbol में बना Arrow, Diode संचालन के दौरान उसमें हो रहे conventional current flow की दिशा को दिखाता है

डायोड के प्रकार – Types of Diodes in Hindi

Diode निम्नलिखित प्रकार के होते हैं

  • Light Emitting Diode
  • Laser diode
  • Avalanche diode
  • Zener diode
  • Schottky diode
  • Photodiode
  • PN junction diode

Light Emitting Diode (LED)

इस प्रकार के Diode में जब electric current, electrodes से होकर गुज़रता है तो यह Light उत्पन्न करता है. दूसरे शब्दों में कहें तो Light तभी उत्पन्न होती है जब पर्याप्त मात्रा में forwarding current, diode से गुजरता है. LED अलग-अलग प्रकार के रंगों में उपलब्ध होते हैं

Laser Diode

यह एक अलग प्रकार का Diode है जो coherent light उत्पन्न करता है. इसका अधिकतर इस्तेमाल CD Drives, DVD और Laser devices में किया जाता है. ये Diode LED की तुलना में महंगे होते हैं और अन्य Laser Generator की तुलना में सस्ते होते हैं. इनकी life limited होती है

Avalanche Diode

यह reverse bias type का Diode है. जो avalanche effect का इस्तेमाल करता है. जब Voltage, drop constant और current से स्वतंत्र होता है तो avalanche का breakdown होता है. ये बहुत अधिक sensitive होते हैं इसलिए इनका इस्तेमाल photo detection के लिए किया जाता है

Zener Diode

Zener Diode के Diodes का बहुत अधिक प्रयोग किया जाता है. यह diode एक stable refrence voltage उपलब्ध करता है. इस प्रकार का diode, reverse-biased में operate होता है और एक निश्चित voltage की मात्रा पर break down हो जाता है

यदि resister से गुजरने वाला current सीमित हो, तो एक stable voltage उत्पन्न होता है. इस प्रकार के diodes का प्रयोग power supplies में अधिकतर किया जाता है. ताकि एक stable refrence voltage प्रदान किया जा सके

Schottky Diode

इस प्रकार के diode में अन्य PN junction diodes की तुलना में कम forward voltage होता है. इस प्रकार के diodes में drop तब होता है जब बहुत कम current होता है. इनका अधिकतर प्रयोग rectifier applications में किया जाता है

Photodiode

यह एक प्रकार का P-N junction Diode होता है जो light energy को electrical energy में convert करता है. यह diode, Inner Photoelectric effect के सिद्धांत पर काम करता है. इनका इस्तेमाल अधिकतर Solar cells और photometers में किया जाता है. इनका इस्तेमाल electricity generate करने के लिए भी किया जाता है

P-N Junction Diode

इस प्रकार के Diode को rectifier diode के रूप में भी जाना जाता है. ये Diode अर्ध चालक material से बने होते हैं और rectification process के लिए उपयोग किए जाते हैं

इस diode में अर्ध चालकों की दो layers होती हैं. अर्ध चालक material की एक layer को P-type material और दूसरी layer को N-type material द्वारा dope किया जाता है

इन दोनों Layers के combination से एक junction बनता है जिसे P-N Junction कहा जाता है और इसलिए इस diode को P-N Junction diode कहा जाता है. यह diode, current को आगे की दिशा में flow करने की अनुमति देता है और current को विपरीत दिशा में flow करने से रोकता है

Read More ⇓

डायोड के उपयोग – Uses of diodes in Hindi

Diodes का इस्तेमाल कई कार्यों के लिए किया जाता है जिनमें से कुछ निम्नलिखित हैं –

  • Diodes का प्रयोग rectifiers के रूप में किया जाता है
  • इनका प्रयोग Clipping circuit के रूप में किया जा सकता है
  • इनका प्रयोग Logic gates में किया जाता है
  • Diodes का इस्तेमाल reverse current से protection के रूप में भी किया जाता है

संक्षेप में

दोस्तों उम्मीद है आपने इस पोस्ट को पूरा पढ़ा होगा और जाना होगा कि डायोड क्या है – What is Diode in Hindi अगर आपको यह जानकारी कुछ काम की लगी है तो इसे अपने दोस्तों के साथ तथा सोशल मीडिया पर जरूर शेयर कीजिएगा

अगर आप ऐसी जानकारियों से जुड़ा रहना चाहते हैं तो MDS Blog के साथ जरूर जुड़िए. यह Post पढ़ने के लिए आपका बहुत-बहुत धन्यवाद !

यह पोस्ट कितनी उपयोगी थी ?

Average rating / 5. Vote count:

अब तक कोई वोट नहीं, इस पोस्ट को रेट करने वाले पहले व्यक्ति बनें

MDS Thanks 😃

पोस्ट अच्छी लगी तो सोशल मीडिया पर हमें फॉलो करें

हमें खेद है कि यह पोस्ट आपके लिए उपयोगी नहीं थी !

हमें बताएं कि हम इस पोस्ट को कैसे बेहतर बना सकते हैं ?

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button

Please allow ads on our site !

Looks like you're using an ad blocker. We rely on advertising to help fund our site.