Hindi Essay

कोरोना वायरस पर निबंध

Corona Par Nibandh in Hindi : नमस्कार दोस्तों क्या आप कोरोनावायरस पर निबंध खोज रहे हैं तो यह पोस्ट आपके लिए एकदम सही है

इस पोस्ट में आपको कोरोनावायरस पर निबंध कैसे लिखा जाए इसके बारे में बताया गया है. दोस्तों चलिए बिना देर करें हुए कोरोना पर निबंध हिंदी में जानते हैं

कोरोनावायरस पर निबंध – Corona Virus Essay in Hindi

कोरोनावायरस पर निबंध, Essay on Corona Virus in Hindi, corona par nibandh

प्रस्तावना

दिसंबर, 2019 में चीन के वुहान शहर में कोरोना नामक एक वायरस ने कहर बरपाना शुरू किया. वहां से यह बीमारी देखते-ही-देखते विश्व के अधिकांश देशों में फैल गई. प्रतिदिन हजारों की संख्या में लोग मरने लगे इसकी भयावहता को देखते हुए 11 मार्च 2020 को विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने इसे महामारी घोषित कर दिया

कोरोना वायरस से बचने के लिए अधिकांश देशों ने अपने यहां संपूर्ण लॉकडाउन घोषित किया और लगभग सारी दुनिया एक साथ अपने घरों में कैद हो गई. कोरोना वायरस को Covid-19 के नाम से भी जाना जाता है

कोरोना का संक्रमण

कोरोना वायरस संसार की सभी सजीव और निर्जीव वस्तुओं को संक्रमित कर देता है. यह वायरस निर्जीव वस्तुओं पर कुछ मिनटों से लेकर कई दिनों तक जीवित रहता है. मनुष्य में यहां संक्रमित वस्तुओं को छूने से और संक्रमित व्यक्ति के नाक तथा मुंह से निकले नाक-थूक और वाष्प के अति सूक्ष्म कणों के व्यक्ति के सांस तक पहुंचने से फैलता है

इसीलिए इस संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए मुंह और नाक पर मास्क लगाने तथा एक-दूसरे से 2 गज की दूरी बनाए रखने के लिए कहा जाता है. साबुन के झाग और अल्कोहल से यह वायरस नष्ट हो जाता है. अतः बार-बार साबुन से हाथ धोने और एल्कोहल मिश्रित सैनिटाइजर का उपयोग करने के लिए कहा जाता है

कोरोनावायरस के लक्षण

कोरोना वायरस मनुष्य के श्वसन तंत्र पर आक्रमण करता है. यह सबसे पहले आंख, नाक, मुंह के माध्यम से गले में प्रवेश करता है और तीन-चार दिनों तक गले में बना रहता है जिससे गले में दुखन उत्पन्न होती है. इसी के साथ संक्रमित व्यक्ति में खांसी और जुकाम के लक्षण दिखाई देने लगते हैं

शरीर में संक्रमण जैसे-जैसे बढ़ता है तो फेफड़ों की क्षमता कम होने लगती है और व्यक्ति को सांस लेने में परेशानी होने लगती है. कुछ लोगों की आंखों में लाली और जलन भी होने लगती है. संक्रमित व्यक्ति बुखार से पीड़ित हो जाता है

कभी-कभी पेट दर्द, उल्टी आदि की परेशानी भी व्यक्ति को होने लगती है. यह जरूरी नहीं कि यह सभी लक्षण सभी संक्रमित व्यक्तियों में दिखाई दे. अधिकांश व्यक्तियों में सर्दी-जुकाम, खांसी, बुखार और छींक आना, गले में दुखन होना या सांस लेने में परेशानी होना आदि लक्षण मुख्य रूप से दिखाई देते हैं. कुछ लोगों में इनमें से कोई भी लक्षण नहीं दिखाई देता

कोरोना का अभी तक कोई इलाज नहीं खोजा जा सका है.अभी सावधानी रखना ही इसका एकमात्र बचाव है. इसका संक्रमण क्योंकि संक्रमित वस्तु या व्यक्तियों को छूने से फैलता है इसीलिए संक्रमित वस्तुओं से दूर रहना ही इससे बचाव का उपाय है. कोरोना वायरस से बचने के लिए प्रत्येक व्यक्ति को निम्न उपाय करने चाहिए

कोरोनावायरस से बचाव के उपाय

कोरोना वायरस से बचाव के उपाय, कोरोना वायरस पर निबंध - Hindi Essay on Corona Virus

  • किसी भी वस्तु को अनावश्यक रूप से छूने से बचें क्योंकि वह कोरोना से संक्रमित हो सकती है.
  • आपस में एक-दूसरे से कम से कम 2 गज की दूरी बनाए रखें.
  •  हाथ ना मिलाएं, दूर से ही नमस्ते आदि से अभिवादन करें.
  • अनावश्यक रूप से घर से बाहर ना निकले.
  • घर से बाहर निकलने पर मुंह पर मास्क अवश्य लगाएं.
  • कार्यालयों, बाजारों, विद्यालयों आदि में भी काम करते समय दूरी का पालन और मास्क का उपयोग पूरे समय करें.
  • खांसते और छीकते समय नाक और मुंह को रुमाल से ढके और रुमाल ना होने पर कोहनी से नाक और मुंह को ढके.
  • दिन भर में थोड़े-थोड़े समय अंतराल पर साबुन से हाथ धोने की आदत डालें और सैनिटाइजर का उपयोग करें.
  • बाजार से लाई वस्तुओं को सेनेटाइज करने के बाद ही प्रयोग करें.
  • सार्वजनिक स्थानों पर न थूके और पान बीड़ी तंबाकू का सेवन न करें.
  • कपड़ों को गर्म पानी और डिटर्जन से धोए या घर से बाहर एक कोने पर उतार कर रखें.
  • ठंडी चीजों को खाने से बचें. तुलसी, अदरक और अजवाइन का काढ़ा उपयोग करें.
  • शरीर की प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने वाले फल, भोजन का उपयोग करें.
  • कोई भी लक्षण दिखाई देने पर स्वयं को क्वारंटाइन में रखें और तुरंत स्वास्थ्य विभाग को सूचित करें. चिकित्सकों के निर्देशों का पालन करें.
  • अपने मोबाइल में आरोग्य सेतु एप को डाउनलोड करें और सदैव सक्रिय रखें.

विश्व के समक्ष चुनौतियाँ

कोरोना वायरस महामारी के कारण आज विश्व के सामने अनेक चुनौतियां हैं. मानवता की रक्षा के लिए इन सभी चुनौतियों पर विजय पाना आवश्यक है. कुछ प्रमुख चुनौतियां इस प्रकार है

  • वैक्सीन अथवा इलाज खोजने की चुनौती
  • अर्थव्यवस्था को बनाए रखने की चुनौती
  • बेरोजगारी की चुनौती
  • प्रवासी कामगारों के पुनर्वास और भरण-पोषण की चुनौती
  • व्यापार और यातायात को पूरा शुरू करने की चुनौती
  • सामाजिक और सांस्कृतिक ताने-बाने को बनाए रखने की चुनौती
  • भाईचारे और विश्व बंधुता की भावना को बनाए रखने की चुनौती

भारत की स्थिति और संभावनाएं

भारत ने इस वायरस से बचाव के लिए बड़े योजनाबद्ध तरीके से काम किया है. जिसके फलस्वरूप 10 अक्टूबर 2020 तक कोरोना को हराकर स्वस्थ होने वालों की संख्या लगभग 85% तक पहुंच चुकी है. जोकि विश्व में सर्वाधिक है. इस वायरस से बचाव के लिए भारत ने विश्व को योग, आयुर्वेद और हाइड्रोक्सीक्लोरो वैक्सीन जैसी दवाइयों का उपयोग करने का सुझाव दिया है

डॉक्टर, नर्सों आदि के द्वारा पहनी जाने वाली पीपीई किट के उत्पादन में भारत विश्व में दूसरे स्थान पर है. वह विदेशों को पीपीई किट अंग्रेज और आयुर्वेदिक दवाओं का निर्यात करके उनके लिए संकट मोचन बनकर उभरा है. विश्व के अनेक बड़ी व्यापारिक कंपनियां भारत में निवेश करने का मन बना चुकी है इससे भारत सहित संपूर्ण विश्व की अर्थव्यवस्था सुदृढ़ होगी

उपसंहार

अंततः यही कहा जा सकता है कि प्रधानमंत्री मोदी जी के कुशल नेतृत्व में भारत न केवल कोरोना पर विजय प्राप्त करेगा. अपितु विश्व गुरु की भूमिका निर्वाह करने हेतु संपूर्ण विश्व का मार्गदर्शन भी करेगा. मुझे अपने देश के ऐसे कुशल नेताओं और भारत देश पर गर्व है जहां के लोग ऐसी कठिन परिस्थितियों को एक साथ समाप्त करने में जुड़े हुए हैं

Read More –

संक्षेप में – 

दोस्तों उम्मीद है आपको कोरोनावायरस पर निबंध – Essay on Corona Virus in Hindi अच्छा लगा होगा. अगर आपको यह निबंध कुछ काम का लगा है तो इसे जरूर सोशल मीडिया पर शेयर कीजिएगा.

अगर आप नई नई जानकारियों को जानना चाहते हैं तो MDS BLOG के साथ जरूर जुड़िए जहां की आपको हर तरह की नई-नई जानकारियां दी जाती है MDS BLOG पर यह पोस्ट पढ़ने के लिए बहुत-बहुत धन्यवाद!

यह पोस्ट कितनी उपयोगी थी ?

Average rating / 5. Vote count:

अब तक कोई वोट नहीं, इस पोस्ट को रेट करने वाले पहले व्यक्ति बनें

MDS Thanks 😃

पोस्ट अच्छी लगी तो सोशल मीडिया पर हमें फॉलो करें

हमें खेद है कि यह पोस्ट आपके लिए उपयोगी नहीं थी !

हमें बताएं कि हम इस पोस्ट को कैसे बेहतर बना सकते हैं ?

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button

Please allow ads on our site !

Looks like you're using an ad blocker. We rely on advertising to help fund our site.