Informative

Loan क्या है और इसके प्रकार

दोस्तों क्या आप जानना चाहते हैं लोन क्या है – What is Loan in Hindi तो इस पोस्ट में आज आपको लोन के प्रकार और Loan लेने से पहले ध्यान में रखने योग्य सभी बातों से परिचित कराया जाएगा

Hello दोस्तों मैं सुमित आपका स्वागत करता हूं हमारे MDS Blog में, मैं आशा करता हूँ कि आप स्वस्थ और सुरक्षित होंगे. तो चलिए लोन क्या होता है? के बारे में जानते है

लोन क्या है – What is Loan in Hindi

लोन क्या है - What is Loan in Hindi

लोन धन की एक राशि है जो एक व्यक्ति या एक से अधिक व्यक्ति या कंपनियां, बैंकों या अन्य वित्तीय संस्थानों से लेती हैं. ताकि Planned और Unplanned events को financially manage किया जा सके

ऐसा करने में, Borrower एक loan लेता है जिसे उसे ब्याज के साथ और एक निश्चित time के भीतर चुकाना होता है. पैसे के लेन-देन से पहले loan देने वाले और लेने वाले दोनों को loan के terms पर agree होना होता है

कुछ मामलों में loan लेने के लिए loan लेने वाले व्यक्ति को अपना कोई Asset या सम्पत्ति गिरवी रखनी पड़ती है. जिसे loan document में Outline किया जाता है

लोन के प्रकार – Types of loan in Hindi

भारत में कई प्रकार के loan उपलब्ध होते हैं. जो निम्नलिखित हैं

  • Secured Loans
  • Unsecured Loans
  • Flexi Loans
  • Open-end Loans
  • Closed-end Loans

Secured Loans

ऐसे loans जिन्हें लेने के लिए किसी प्रकार के Collateral की आवश्यकता होती है Secured loans कहलाते हैं. जैसे – यदि आप किसी से loan लेते हैं तो आपके द्वारा लिए गए पैसे के बदले में आपको Security के रूप में उनके पास अपना कोई Asset गिरवी रखना पड़ता है

ताकि यदि आप loan चुकाने में असमर्थ होते हैं. तो lender आपके उस Asset के जरिये अपने loan को वसूल सकता है. Secured loans पर interest rate अन्य loans की तुलना में कम होता है

Secured Loans के प्रकार

Secured loans निम्न प्रकार के होते हैं

Home loan

वह loan जो आप अपना घर बनाने या खरीदने के लिए ले सकते हैं Home loan कहलाता है. आप अपने घर के लिए जमीन खरीदने के लिए, घर को बनाने के लिए, घर को renovate करने आदि के लिए Home loans ले सकते हैं

Loan against property

यह ऐसा loan होता है जिसके बदले में loan लेने वाले व्यक्ति को अपनी किसी प्रकार की Property को गिरवी रखना पड़ता है. यानी इस loan में व्यक्ति की सम्पत्ति के कागज़ात और कानूनी स्वामित्व loan देने वाले के पास रहता है. जब तक कि व्यक्ति loan चुका नहीं देता

Loan against Insurance Policy

यदि आपके पास Insurance policy है. तो आप उसके बदले में भी loan ले सकते हैं. इसे loan against insurance policy कहा जाता है. इस पर मिलने वाला loan amount आपकी policy पर निर्भर करता है. Personal loan की तुलना में इसमें कम ब्याज चुकाना पड़ता है

Gold loan

जब loan लेने के लिए आपको सोना जैसे – Gold jwellery या coin आदि Collateral के रूप में रखना पड़ता है. तो उसे Gold loan कहते हैं

Loan against Shares and Mutual fund

आप loan लेने के लिए अपने द्वारा खरीदे Shares या mutual funds को collateral के रूप में रख सकते हैं. इस प्रकार के loan को Loan against Shares and Mutual funds कहा जाता है

Loans against Fixed Deposits

आप अपने Fixed deposit यानी FD को Collateral के रूप में रखकर भी loan ले सकते हैं. इसे loans against Fixed deposit कहा जाता है

Unsecured Loans

Unsecured loans ऐसे loans होते हैं जिन्हें लेने के लिए आपको Collateral के रूप कुछ भी रखने की आवश्यकता नहीं पड़ती है. ये loans आपको आपके Psst Assosiation, आपके Credit score आदि के आधार पर दिए जाते हैं

इन loans को प्राप्त करने के लिए आपका Credit score high होना चाहिए. इन loans की interest rate ज्यादा होती हैं क्योंकि इसमें आपको Collateral नहीं देना पड़ता है

Unsecured Loans के प्रकार

Unsecured Loans निम्न प्रकार के होते हैं

Personal loan

यह ऐसा loan होता है जिसे आप अपने Personal reasons जैसे – शादी, International trips या vacation, emergencies आदि के लिए ले सकते हैं. क्योंकि यह Personal कारणों से लिया जाता है इसीलिए इसे Personal loan कहा जाता है

ये Secured loans की तुलना में अधिक interest rates वाले होते हैं. इन्हें लेने के लिए आपको High credit score और Stable income की आवश्यकता पड़ती है

Short-term Business loans

इस प्रकार के loans, Entities और Organisations द्वारा अपने Expansion और Daily expenses को पूरा करने के लिए लिया जाता है

Flexi Loans

इनके नाम से ही हम समझ सकते हैं कि ये ऐसे loans होते हैं जो काफी flexible होते हैं. ऐसे loans आपको आपके finances के ऊपर पूरी freedom और कंट्रोल देते हैं

Flexi Loans के प्रकार

Flexi Loans निम्न प्रकार के होते हैं

Education loans

नाम से ही समझ आता है कि यह ऐसा loan होता है जो Education के लिए लिया जाता है. यानी ऐसा loan जिसका इस्तेमाल आप अपनी Education पर आने वाले खर्चो को उठाने के लिए कर सकते हैं

Vehicle loans

यदि आप कोई two-wheeler या four-wheeler वाहन खरीदना चाहते हैं तो इसके लिए भी आप loan ले सकते हैं. इस loan का इस्तेमाल आप नया vehicle खरीदने के साथ साथ पुराने vehicle के लिए भी कर सकते हैं

Open-end Loans

ऐसे loans जिन्हें आप बार-बार ले सकते हैं Open-end loans कहलाते हैं. Credit cards और lines of credit इस प्रकार के loans के सबसे आम उदाहरण हैं

Close-end Loans

यह ऐसे loans होते हैं जिन्हें यदि आप एक बार लेते हैं तो इसे चुकाए बिना आप दूसरा loan नहीं ले सकते हैं. यानी इन loans को आप बार-बार नहीं ले सकते हैं. Car loans आदि इस प्रकार के loans के उदाहरण हैं

Loan लेने से पहले ध्यान में रखने योग्य बातें

किसी भी व्यक्ति को loan के लिए Apply करने से पहले निम्लिखित बातों को ध्यान में जरूर रखना चाहिए

Credit Score और Credit History

यदि किसी व्यक्ति का Credit score और Credit history अच्छी है तो यह loan देने वाले को यह दिखाता है. कि वह समय पर loan चुकाने में सक्षम है. इसलिए, Credit score जितना अधिक होगा. व्यक्ति के loan approve होने की संभावना उतनी ही अधिक होगी

Income

किसी भी प्रकार के loan के लिए Apply करने से पहले, एक और पहलू जिसका मूल्यांकन व्यक्ति को करना चाहिए वह है उसकी Income

एक employee को loan approve कराने के लिए, अपने employer से pay stubs, W-2 फॉर्म और Salary letter जमा करने की जरूरत पड़ती है

हालाँकि, यदि Apply करने वाला व्यक्ति Self-employed है तो उसे अपने पिछले दो या अधिक वर्षों के Tax returns और जहां लागू हो चालान जमा करने की जरूरत पड़ती है

मासिक खर्चे

अपनी Income के अलावा, एक loan Applicant के लिए अपने मासिक खर्चों का मूल्यांकन करना भी जरूरी होता है. उदाहरण के लिए – एक व्यक्ति को 6,000 की monthly income प्राप्त हो सकती है उसके महीने का खर्च 5000 है. ऐसे में loan मिलना मुश्किल होता है

ऐसे में lenders को यह शंका होती है कि यह व्यक्ति loan चुकाने में समर्थ नही हैं. इसी कारण lenders कई बार Applicants से उनके monthly expanses को list करने को कहती हैं

Loan लेने के लिए योग्यता

Loan के लिए Eligibility criteria, loan के प्रकार पर निर्भर करता है. आमतौर पर loan लेने के लिए निम्नलिखित Criteria होता है

  • बेहतर Credit score
  • निरंतर Income flow
  • Entry के समय उम्र 23 से 60 साल
  • कुछ assets जैसे Investments, Fixed deposits, property आदि
  • बैंक के साथ अच्छे सम्बन्ध
  • अच्छी debt repayment history

Loan लेने के लिए आवश्यक Documents

Employee और Self-employed व्यक्तियों को Loan लेने के लिए कुछ अलग-अलग documents की जरूरत होती है. जो निम्नलिखित है

Employes के लिए आवश्यक Documents

Self-employed या businesses के लिए आवश्यक Documents

Application form, Photograph के साथ

Application form, Photograph के साथ

ID और Address Proof

ID और Address Proof

Last 6 महीनों का Bank account statement

Last 6 महीनों का Bank account statement

Latest Salary Slip

Business Proof और Business Profile

Form 16

पिछले 3 सालों का Income Tax return

                 

Profit/loss statement और पिछले 3 सालों की balance sheet

Read More ⇒ Income tax क्या है इसके फायदे

लोन के फायदे – Advantages of Loan in Hindi

Loans के कई फायदे होते हैं जो निम्नलिखित हैं

  • Loans आपको financial flexibility प्रदान करते हैं. यह जरूरत पड़ने पर आपको financial support प्रदान करता है.
  • Loan आपको आसानी से Available हो जाता है. आमतौर पर loan को approve होने में 48 घण्टे का समय लगता है.
  • Loan के जरिये आपको जितने Amount की जरूरत होती है वह आपको उपलब्ध हो जाता है.
  • Loan आपको अपने life goals और dreams को achieve करने में भी मदद करता है.
  • कई बार emergency में भी loan आपके लिए बेहद उपयोगी साबित होता है.
  • Loan लेते समय आपको यह चुनाव करने का Option दिया जाता है कि आप कितने समय मे इस loan को चुका सकते हैं.
  • सभी तरह के Loans में आपको tax benifit भी प्रदान होता है.

संक्षेप में

दोस्तों उम्मीद है आपको यह पोस्ट लोन क्या है – What is Loan in Hindi अच्छी लगी होगी. अगर आपको यह जानकारी कुछ काम की लगी है तो इसे जरूर सोशल मीडिया पर शेयर कीजिएगा

अगर आप नई नई जानकारियों को जानना चाहते हैं तो MDS BLOG के साथ जरूर जुड़िए जहां की आपको हर तरह की नई-नई जानकारियां दी जाती है. MDS BLOG पर यह पोस्ट पढ़ने के लिए बहुत-बहुत धन्यवाद!

यह पोस्ट कितनी उपयोगी थी ?

Average rating / 5. Vote count:

अब तक कोई वोट नहीं, इस पोस्ट को रेट करने वाले पहले व्यक्ति बनें

MDS Thanks 😃

पोस्ट अच्छी लगी तो सोशल मीडिया पर हमें फॉलो करें

हमें खेद है कि यह पोस्ट आपके लिए उपयोगी नहीं थी !

हमें बताएं कि हम इस पोस्ट को कैसे बेहतर बना सकते हैं ?

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button

Please allow ads on our site !

Looks like you're using an ad blocker. We rely on advertising to help fund our site.