Informative

Pen drive क्या है और इसके फायदे

क्या आप भी जानना चाहते हैं पेन ड्राइव क्या है – What is Pen drive in Hindi तो इस पोस्ट में आपको पेन ड्राइव की पूरी जानकारी सरल और आसान शब्दों में दी गई है

Hello दोस्तों आप सभी का स्वागत है MDS Blog में, आशा करते हैं कि आप सभी स्वस्थ एवं सुरक्षित होंगे और अपना और अपनों का ख्याल रख रहे होंगे

दोस्तों MDS Blog के साथ हर रोज कुछ नया सीखने के सिलसिले में आज हम आपको एक ऐसे डिवाइस के बारे में बताने जा रहे हैं जिसने दुनिया भर में स्टोरेज के तौर तरीके को एकदम बदल दिया है. जी हां दोस्तों आज हम बात करने जा रहे हैं स्टोरेज डिवाइस के बारे में जिसे हम Pen Drive के नाम से जानते हैं. आइए आपको बताते हैं आखिर पेन ड्राइव क्या होता है?

पेन ड्राइव क्या है – What is Pen drive in Hindi

पेन ड्राइव क्या है - What is Pen drive in Hindi

दोस्तों Pen drive पेन की भांति दिखने वाला एक storage device होता है जिसका इस्तेमाल डेटा को store करने या files को Transfer करने के लिए किया जाता है. यह एक USB (Universal Serial Bus) डिवाइस होता है और इसे USB Flash Drive के नाम से भी जाना जाता है

यह एक Portable स्टोरेज डिवाइस है. यह आकार में बहुत छोटी होती है इतनी कि इसे हम अपनी मुट्ठी में आसानी से छुपा सकते हैं. यह इसकी एक बहुत बड़ी विशेषता है जो इसे इतना अधिक लोकप्रिय बनाती है. इसके छोटे आकार के कारण यूजर जहां चाहे वहाँ इसे आसानी से ले जा सकता है

Pen drive आज लगभग दुनिया के सभी कोनो में इस्तेमाल किया जाता है. पेन ड्राइव के आने से CDs और Floppy disk जैसी चीजों का इस्तेमाल खत्म हो चुका है क्योंकि पेन ड्राइव की Data Storage Capacity और Transferring Speed दोनों ही इनसे काफी बेहतर है

एक पेन ड्राइव वर्तमान समय में 512MB से 123GB तक कि Storage capacity रखती है. इतने छोटे आकार में इतनी अधिक storage Capacity रखने के कारण ही यह इतनी लोकप्रिय है

पेन ड्राइव को बनाने के लिए Plastic, Metal आदि का इस्तेमाल किया जाता है जिससे यह वजन में हल्की होती है. सामान्य तौर पर इसकी लंबाई 1 से 6 cm तक होती है. मोटाई 1 से 3cm तक होती है तथा चौड़ाई भी 1 से 3 cm तक होती है

Pen Drive का उपयोग कैसे करें

पेन ड्राइव को इस्तेमाल करना बेहद ही सरल होता है. आपको पेन ड्राइव का एक एन्ड अपने कंप्यूटर या अन्य डिवाइस के USB port में insert करना होता है. Insert करते ही आपके Computer या अन्य device में Notification आती है और इस प्रकार आपका पेन ड्राइव कनेक्ट हो जाता है

अब आप इसके अंदर के डेटा और फाइल्स को कंप्यूटर पर access कर सकते हैं. आप इसके अंदर की फाइल्स को ट्रांसफर कर सकते हैं. साथ ही इसके अंदर के Songs, Videos, files आदि को कंप्यूटर पर खोल सकते हैं और इस्तेमाल कर सकते हैं

पेन ड्राइव के Features

अब तक हमने जाना पेन ड्राइव क्या होती है और इसे इस्तेमाल कैसे करते हैं. अब वक्त है जानने का कि एक पेन ड्राइव किस किस काम आता है और इसमें क्या क्या features उपलब्ध होते है

  • Storage Device
  • Transferring Files
  • Backup
  • Easily Portable

Storage Device – पेन ड्राइव का इस्तेमाल एक स्टोरेज डिवाइस के रूप में किया जाता है. एक पेन ड्राइव के अंदर उसकी क्षमता के अनुसार हम इसमें 512MB से 128GB तक का डेटा स्टोर कर सकते हैं

Transferring Files – पेन ड्राइव का इस्तेमाल file transferring में भी किया जाता है. इसकी सहायता से हम एक डिवाइस से दूसरी डिवाइस में data ट्रांसफर कर सकते है

Backup – पेन ड्राइव का इस्तेमाल डेटा का backup करने के लिए भी किया जाता है. पेन ड्राइव में Password encryption की सुविधा मौजूद होती है. जिससे हम डेटा को सुरक्षित रख सकते हैं

Easily Portable – क्योंकि पेन ड्राइव आकार में बहुत छोटी और वजन में बहुत हल्की होती है जिससे इसे एक जगह से दूसरी जगह ले जाने में आसानी होती है

पेन ड्राइव के फायदे या लाभ

पेन ड्राइव के आविष्कार के बाद से ही इसे पूरी दुनिया मे इस्तेमाल किया जाने लगा. इसने डेटा स्टोरेज और फ़ाइल ट्रांसफरिंग को बेहद आसान बना दिया है. चलिये इसके कुछ फायदों पर नज़र डालते है

  • पेन ड्राइव की स्टोरेज कैपेसिटी काफी ज्यादा होती है जिससे इसमें काफी डेटा स्टोर किया जा सकता है.
  • पेन ड्राइव से ज्यादा तेजी से Data और files Transfer की जा सकती है.
  • पेन ड्राइव के बेहतरीन डिज़ाइन के कारण ये बेहद portable होती है.
  • यह Wireless डिवाइस है. इसके इस्तेमाल में किसी भी प्रकार की Cord या Cable की आवश्यकता नही होती है.
  • एक पेन ड्राइव Permanent storage की ही भांति Data को Store करने की क्षमता रखती है.

पेन ड्राइव के नुकसान या हानि

पेन ड्राइव के फायदों के साथ साथ कुछ नुकसान भी होते हैं. इसके कुछ नुकसानों पर नज़र डालते है

  • यह साइज में छोटी होती है जिससे इसके खोने का खतरा लगा रहता है.
  • पेन ड्राइव के इस्तेमाल से कंप्यूटर में Virus फैलने का खतरा भी बना रहता है.
  • Hard disks की तुलना में पेन ड्राइव में काम storage क्षमता होती है.

आज आपने सीखा

दोस्तों उम्मीद है आपको बताई गई जानकारी पेन ड्राइव क्या है – What is Pen drive in Hindi जरूर पसंद आई होगी. अगर आप ऐसे ही जानकारियों को पढ़ने में रुचि रखते हैं तो आप MDS BLOG के साथ जुड़ सकते हैं

जहां कि आपको इंटरनेट के माध्यम से हर तरह की जानकारियां दी जाती है. अगर आपका हमारी इस पोस्ट के बारे में कोई भी सुझाव है या फिर कोई भी प्रश्न है तो आप कमेंट बॉक्स में पूछ सकते हैं. हम आपको जवाब देने की कोशिश जरूर करेंगे

यह पोस्ट कितनी उपयोगी थी ?

Average rating / 5. Vote count:

अब तक कोई वोट नहीं, इस पोस्ट को रेट करने वाले पहले व्यक्ति बनें

MDS Thanks 😃

पोस्ट अच्छी लगी तो सोशल मीडिया पर हमें फॉलो करें

हमें खेद है कि यह पोस्ट आपके लिए उपयोगी नहीं थी !

हमें बताएं कि हम इस पोस्ट को कैसे बेहतर बना सकते हैं ?

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button

Please allow ads on our site !

Looks like you're using an ad blocker. We rely on advertising to help fund our site.