Internet

प्रॉक्सी सर्वर क्या है और कैसे काम करता है

दोस्तों क्या आप जानना चाहते हैं प्रॉक्सी सर्वर क्या है – What is Proxy Server in Hindi तो इस पोस्ट में आज आपको प्रॉक्सी सर्वर के प्रकार और प्रॉक्सी सर्वर की सभी बातों से परिचित कराया जाएगा

Hello दोस्तों मैं सुमित आपका स्वागत करता हूं MDS Blog में, मैं आशा करता हूँ कि आप स्वस्थ और सुरक्षित होंगे. तो चलिए प्रॉक्सी सर्वर क्या है और कैसे काम करता है? जानते है

प्रॉक्सी सर्वर क्या है – What is Proxy Server in Hindi

Proxy Server kya hai

Proxy Server meaning : एक Proxy server एक कंप्यूटर सिस्टम या Router है. जो Client और Server के बीच Relay के रूप में कार्य करता है. यह एक Attacker को एक Private network पर Attack करने से रोकने में मदद करता है और Firewall बनाने के लिए उपयोग किए जाने वाले कई tools में से एक है

Proxy शब्द का अर्थ है “दूसरे की ओर से कार्य करना या किसी और का प्रतिनिधित्व करना” इसी प्रकार एक Proxy server, User की ओर से कार्य करता है

User जब भी इंटरनेट पर कुछ request करता है तो वह request पहले Proxy server पर जाती है. Proxy server उस request का मूल्यांकन करता है और फिर इसे इंटरनेट को Forward करता है

इसी तरह, इंटरनेट जब User द्वारा की request को response देता है. तो वह response भी पहले Proxy server तक जाता है और उसके बाद User तक पहुंचता है

प्रॉक्सी सर्वर कैसे काम करता है – How Proxy server works in Hindi

इंटरनेट पर प्रत्येक कंप्यूटर के लिए एक यूनिक Internet Protocol (IP) Address होना आवश्यक होता है. इसे आप अपने कंप्यूटर की गली के Address के रूप में सोच सकते हैं

जिस तरह डाकघर आपके Mail को आपके गली के Address पर पहुंचाना जानता है. उसी तरह इंटरनेट भी आपके IP Address के जरिये आपके कम्प्यूटर तक सही डेटा को भेजता है

एक Proxy Server मूल रूप से इंटरनेट पर एक कंप्यूटर होता है. जिसका अपना IP Address होता है जिसे आपका कंप्यूटर जानता है. जब आप कोई Web Request भेजते हैं तो आपकी Request पहले Proxy server पर जाती है

तब Proxy server आपकी ओर से आपकी Web request भेजता है और Web server से उसका Response collect कर आप तक Web page को forward करता है. ताकि आप अपने Browser में उस Page को देख सकें

जब Proxy server आपके द्वारा की गई Web requests को forward करता है. तो यह आपके द्वारा भेजे जाने वाले Data में परिवर्तन कर सकता है और फिर भी आपको वह जानकारी प्रदान कर सकता है जिसकी आप अपेक्षा करते हैं

एक Proxy server आपके IP Address को बदल सकता है. इसलिए Web server को आपकी location पता नहीं चलती है. यह आपके Data को encrypt कर सकता है इसलिए आपके data को transit में पढ़ा जाना संभव नहीं होता है. एक Proxy server आपके IP Address के आधार पर आपको कुछ web pages को access करने से रोक भी सकता है

प्रॉक्सी सर्वर के प्रकार – Types of Proxy Server in Hindi

अलग-अलग प्रकार के Proxy server होते हैं. जो अलग-अलग कार्यों के लिए इस्तेमाल किये जाते हैं. Proxy server निम्नलिखित प्रकार के होते हैं

  • Forward Proxies
  • Reverse Proxies
  • Rotating Proxies
  • Transparent Proxies
  • Anonymous Proxies
  • Distorting Proxies
  • High Anonymity Proxies
  • Data Center Proxies
  • Residential Proxies
  • Public Proxies
  • Shared Proxies
  • SSL Proxies

Forward Proxies

यह Client और एक External network के बीच स्थित होता है. यह Outbound Requests का मूल्यांकन करता है. इसके बाद यह उन requests को external resources को relay करने से पहले उन पर Action लेता है. अधिकांश Proxy servers, forward proxy servers होते हैं. VPN और Web Content Filter दोनों इसके उदाहरण हैं

Reverse Proxy

यह एक Network और कई अन्य Internal resources के बीच स्थापित होता है. एक बड़ी Website में दर्जनों server हो सकते हैं जो सामूहिक रूप से एक ही Domain से requests को पूरा करते हैं

इसे पूरा करने के लिए, Clients की requests एक मशीन तक जाती हैं. जो Load balancer के रूप में कार्य करेगा. Load balancer तब उस traffic को अलग-अलग Servers पर वापस भेज देता है

Rotating Proxy

यह Proxy इससे जुड़ने वाले प्रत्येक User को एक अलग IP Address प्रदान करता है. जैसे ही users connect होते हैं उन्हें एक ऐसा Address दिया जाता है जो इससे जुड़ने वाली पुरानी सभी Devices के Address से unique होता है

यह उन Users के लिए आदर्श हैं जिन्हें बहुत अधिक मात्रा में, निरंतर Web scraping करने की आवश्यकता होती है. ये Proxy आपको एक ही वेबसाइट को बार-बार बिना पहचान में आये इस्तेमाल करने की अनुमति देती है

Transparent Proxy

यह Proxy, Websites को बताता है कि यह एक Proxy server है. यह Proxy आपके IP address को Website तक pass करता है जिससे Web servers आपकी identify करने में सक्षम होता है

इसका प्रयोग Business, Public libraries और Schools अक्सर Content filtering के लिए करते हैं. इन्हें Set up करना Client और Servers दोनों के लिए आसान होता है

Anonymous Proxy

यह Proxy खुद को एक Proxy के रूप में identify करवाता है. लेकिन यह आपके IP Address को Website तक नहीं भेजता है. यह आपकी identity चोरी होने से बचाता है और आपकी Browsing habits को Private रखता है

Distorting Proxy

यह Proxy server खुद को एक Proxy के रूप में identify करवाता है और Website या Server को आपका असल IP address ना देकर एक गलत IP address देता है. जिससे Severs आपकी पहचान करने में सफल नहीं होते है

High Anonymity Proxy

यह Proxy servers समय-समय पर Web server पर मौजूद IP Address को बदलते हैं. जिससे यह Track करना बहुत मुश्किल हो जाता है कि कौन सा traffic किसका है और कहाँ से आ रहा है. यह इंटरनेट को Read करने का सबसे Private और Secure तरीका है

Data Center Proxy

यह Proxy server किसी Internet Service Provider (ISP) से affiliated नहीं होते है. लेकिन किसी अन्य Corporation द्वारा data center के माध्यम से प्रदान किए जाते हैं

इसमें Proxy server एक Physical data center में मौजूद होता है और Users की requests को इस Server के माध्यम से Route किया जाता है

Residential Proxy

यह Proxy आपको एक Specificphysical device से संबंधित एक IP address देता है. तब आपके द्वारा की गई सभी Web requests को उस Device के माध्यम से Channel किया जाता है. यह Proxy अन्य Proxies की तुलना में अधिक भरोसेमंद हैं. हालांकि, ये अक्सर थोड़ी महंगी होती हैं

Public Proxy

एक Public proxy सभी के लिए free होती है. यह Users के IP Address को छुपाता है और Users को अपने IP address के जरिये Web access करने की सुविधा देता है

यह उन Users के लिए best होता है जो पैसे नहीं खर्चना चाहते हैं और जिनके लिए सुरक्षा और Speed मायने नहीं रखती है. ये Servers अक्सर धीमे और असुरक्षित होते है

Shared Proxy

इनका उपयोग एक से अधिक Users द्वारा एक साथ किया जाता है. ये Proxy servers आपको एक IP Address प्रदान करते हैं जिसे अन्य लोगों द्वारा share किया जा सकता है

यह ऐसे Users के लिए अच्छा Option है जिनके पास खर्च करने के लिए बहुत पैसा नहीं है और जिन्हें एक तेज़ Connection की जरूरत नहीं है. इसका मुख्य लाभ इसकी कम लागत है

SSL Proxy

एक Secure Sockets Layer (SSL) Proxy, Client और Servers के बीच Decryption प्रदान करता है. इसमें Data दोनों दिशाओं में Encrypt किया गया होता है. जिससे Proxy अपने Existence को Client और Servers दोनों से छुपाता है

प्रॉक्सी सर्वर के फायदे – Advantages of Proxy server in Hindi

Proxy use करने के निम्नलिखित फायदे होते हैं

Anonymity

Proxy का इस्तेमाल मुख्य रूप से IP Address को hide या mask करने के लिए किया जाता है. इस तरह कोई भी हैकर आपके कंप्यूटर को access करने की कोशिश नहीं कर पाएगा

आपके कंप्यूटर तक पहुँचने का प्रयास करते समय, वे वास्तविक IP पते के बजाय Proxy में log in होंगे. इसके अलावा, Website आपको track नहीं कर पाएंगी. इस तरह एक Proxy, users को गुमनामी (Anonymity) प्रदान कर सकता है

Protection

जब आप Web, browse कर रहे होते हैं तो इस बात की बहुत अधिक संभावना होती है कि आप गलत Websites पर जा सकते हैं. यदि आप इस तरह की Site पर जाते हैं तो Malware आपके system में घुस जाएगा जिससे आपके system को क्षति हो सकती है

इसी तरह Hackers द्वारा कई ऐसी Websites setup की गई है. जिनमें से किसी एक तक पहुँचने से आपकी सभी व्यक्तिगत जानकारी खतरे में पड़ जाएगी

जब आप Proxy server का उपयोग कर रहे होते हैं. तो आपका System सीधे उन साइटों पर request नहीं करेगा. हमेशा Proxy end को ऐसी Sites द्वारा लगाए गए खतरों का सामना करना पड़ेगा. यह आपके System को अधिकतम सुरक्षा बनाए रखने की अनुमति देता है

Unblock Websites

कई Website owner, copyright law के कारण कुछ Geographical areas में अपने Content को block कर देते हैं. उन क्षेत्रों से बाहर रहने वाला कोई भी व्यक्ति उस Content तक नहीं पहुंच पाएगा

चूंकि IP Address, Proxy का उपयोग करके छिप जाता है. इसलिए आप अपने स्थान की परवाह किए बिना उन Sites तक पहुंच सकते हैं

Performance

कुछ Proxy, cache data का उपयोग करते हैं. एक बार जब कोई User किसी वेबसाइट पर जाता है तो ये Proxy सभी आवश्यक सूचनाओं को Cache data के माध्यम से Save कर लेती है. इसके कारण, जब कोई User उसी page पर दोबारा जाता है तो Page तेज़ी से प्रदर्शित होता है

प्रॉक्सी सर्वर के नुकसान – Disadvantages of Proxy server in Hindi

Tracking

Proxy द्वारा उपयोग किया जाने वाला Cache data, पासवर्ड सहित सभी व्यक्तिगत सूचनाओं को याद रख सकता है. यह कोई समस्या नहीं होगी जब तक कि बाहर से कोई उन्हें इकट्ठा न करे. ऐसी संभावनाएं हैं जहां Proxy के तहत काम करने वाले कर्मचारी इन सूचनाओं का दुरुपयोग कर सकते हैं

Security

हालाँकि Proxy, IP को Hide करके आपको गुमनामी का लाभ प्रदान करते हैं. लेकिन इसमें Encryption का अभाव होता है. अधिकांश Proxy, data को encrypt करने के लिए SSL Certifications का उपयोग करते हैं. यह आज के साइबर हमलों को रोकने के लिए पर्याप्त मजबूत नहीं है

Incompatibility

कई बार Proxy आपके local network के साथ Compatible नहीं होती है. Proxy और Networks दोनों की अपनी अपनी configuration होती है. ऐसे में Proxy, use करने में परेशानियां हो सकती हैं

Cost

Proxy server का Set up और Maintainance महंगा हो सकता है. भले ही बड़े संगठन इस खर्च को आसानी से Cover कर सकते हैं लेकिन छोटे व्यवसायों के लिए यह सम्भव नहीं होगा

संक्षेप में

दोस्तों उम्मीद है आपको यह पोस्ट प्रॉक्सी सर्वर क्या है – What is Proxy Server in Hindi अच्छी लगी होगी. अगर आपको यह जानकारी कुछ काम की लगी है तो इसे जरूर सोशल मीडिया पर शेयर कीजिएगा

अगर आप नई नई जानकारियों को जानना चाहते हैं तो MDS BLOG के साथ जरूर जुड़िए जहां की आपको हर तरह की नई-नई जानकारियां दी जाती है. MDS BLOG पर यह पोस्ट पढ़ने के लिए बहुत-बहुत धन्यवाद!

यह पोस्ट कितनी उपयोगी थी ?

Average rating / 5. Vote count:

अब तक कोई वोट नहीं, इस पोस्ट को रेट करने वाले पहले व्यक्ति बनें

MDS Thanks 😃

पोस्ट अच्छी लगी तो सोशल मीडिया पर हमें फॉलो करें

हमें खेद है कि यह पोस्ट आपके लिए उपयोगी नहीं थी !

हमें बताएं कि हम इस पोस्ट को कैसे बेहतर बना सकते हैं ?

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button

Please allow ads on our site !

Looks like you're using an ad blocker. We rely on advertising to help fund our site.