Hindi Essay

संचार क्रांति और भारत पर निबंध

नमस्कार दोस्तों क्या आप संचार क्रांति और भारत पर निबंध खोज रहे हैं. तो यह पोस्ट आपके लिए लाभान्वित हो सकती है. इस पोस्ट में आपको संचार क्रांति और भारत पर निबंध कैसे लिखा जा सकता है इसके बारे में बताया गया है आइए जानते हैं

संचार क्रांति और भारत – Sanchar Kranti Essay in Hindi

sanchar kranti or bharat par nibandh, संचार क्रान्ति और भारत पर निबंध

प्रस्तावना

देश में ‘वसुधैव कुटुम्बकम्’ का विचार सदैव से ही पल्लवित होता रहा है. यह विचार अब संचार के माध्यम से और साकार हो उठा है. विश्व के उन्नत देशों ने संचार के आधुनिकतम तरीके खोजे और पूरे विश्व पर दबदबा स्थापित किया. आज ये तरीके भारत में भी फैल गए हैं. भारत भी संचार क्रान्ति में अग्रणी देश बन गया है

संचार क्रांति से आशय

संचार का अर्थ है सन्देश भेजने के साधन, इन साधनों में डाक-तार, मीडिया, दूरभाष आदि साधन आ जाते हैं. ‘संचार क्रान्ति से आशय है – संचार के ऐसे साधन आश्चर्यजनक तरीके से अत्यधिक संख्या में इकट्ठे हो जाना

आज देश में टेलीफोन, डाक-तार, मोबाइल, रेडियो, दूरदर्शन, कोरियर, इण्टरनेट जैसे अनगिनत साधन उपलब्ध हो गए हैं. आज अपना सन्देश भेजना इतना सरल, सस्ता और सहज हो गया है कि संचार के क्षेत्र में आश्चर्यजनक क्रान्ति उत्पन्न हो गई है

संचार क्रांति के लोकप्रिय साधन

भारत विकासशील राष्ट्र है. यहाँ संचार के साधनों में डाक सेवा ग्रामीण क्षेत्रों का सबसे प्रचलित साधन है इसके माध्यम से ग्रामीणजन अनेक प्रकार के लाभ उठा रहे हैं. डाक सेवा ने अनेक योजनाएँ प्रारम्भ करके बेरोजगार लोगों को रोजगार भी प्रदान किया है

दूरभाष

भारत की जनता का सबसे लोकप्रिय संचार साधन दूरभाष है. आज देश में करोड़ों दूरभाष हैं और अब तो गांव में भी दूरभाष सेवा उपलब्ध हो गई है. इस साधन ने देश-विदेश की दूरी मिटा दी है. अब तो मात्र पैसे में देश में कहीं भी अपना सन्देश दिया जा सकता है इसके कारण शहरी लोगों में पत्र-लेखन का प्रचलन कम होता जा रहा है

मोबाइल

यह एक छोटा-सा उपकरण है जो व्यक्ति के जेब में रहता है इसकी सहायता से व्यक्ति राह चलते कभी भी कहीं भी बात कर सकता है. एक मोबाइल कम्पनी ने तो स्लोगन निकाला है – कर लो दुनिया मुट्ठी में, वास्तव में आज मोबाइल के माध्यम से दुनिया मुट्ठी में ही है

मोबाइल फोन का सबसे बड़ा लाभ यह है कि यह आसानी से उपलब्ध है. मोबाइल कम्पनियाँ आपके पास आकर इसका कनेक्शन देती हैं इसका बिल भी वे आपके घर से ही ले आती हैं. इस कारण मोबाइल सबकी पसन्द बनता जा रहा है

मोबाइल फोन ने बिजली, मिस्त्री, ठेकेदार ड्राइवर तथा अन्य छोटे कारीगरों की दुनिया ही बदल डाली है. मोबाइल से उन्हें काम धंधा मिलने में आसानी होने लगी है. यह सुविधा जितनी महत्त्वपूर्ण है उससे भी अधिक सस्ती है. आज एक या दो पैसे खर्च करके इसके द्वारा सारे देश में कहीं भी अपना सन्देश भेज सकते हैं

इंटरनेट

इंटरनेट भी संचार का एक बड़ा साधन बनता जा रहा है. इंटरनेट पर अपने सन्देश बहुत कम मूल्य पर भेजे व पाए जा सकते हैं इसके लिए कम्प्यूटर और इंटरनेट कनेक्शन आवश्यक है. हम इंटरनेट पर दुनिया के किसी भी कोने में रहने वाले अपने मित्र से बातचीत कर सकते हैं

विभिन्न दुकानों पर विकने वाली वस्तुओं को देख सकते है और उनका ऑर्डर दे सकते हैं. मीडिया और शेयर बाजार पर नजर रख सकते हैं. अपने उत्पादन और सेवाओं का विज्ञापन कर सकते हैं. इंटरनेट पर हम न केवल अखबार पढ़ सकते हैं, बल्कि पुस्तकालयों से आवश्यक सूचना भी प्राप्त कर सकते हैं. विश्व से हम सलाह मांग सकते है और विश्व के सामने अपने विचार रख सकते हैं

सामूहिक संचार साधन

रेडियो और दूरदर्शन समूह संचार के लोकप्रिय साधन हैं. समाज में यद्यपि पत्र-पत्रिकाओं की भूमिका कम नहीं हुई है, फिर भी इनका आकर्षण कम अवश्य हुआ है. अब 21 घण्टे समाचार चैनल चलते रहते है

मनोरंजन तथा अन्य ज्ञानवर्द्धक सामग्री हमेशा दूरदर्शन पर उपलब्ध रहती है. वर्तमान में दूरदर्शन प्रत्येक व्यक्ति का प्रिय साधन होता जा रहा है. रेडियो के एफ०एग० बैण्ड 24 घण्टे अपना प्रसारण देते हैं

यह देश के युवाओं के दिल की धड़कन बन गया है. संचार-क्रान्ति का सबसे बड़ा लाभ यह हुआ है कि मानव-मानव की दूरियाँ कम हो गई हैं. विश्व की सभी जानकारियां सबको उपलब्ध होने लगी हैं इसके कारण लोगों का जीवन स्तर उन्नत हुआ है. सबके लिए विकास के समान स्तर उपलब्ध हो गए है

उपसंहार

संचार क्रान्ति की सबसे बड़ी हानि शोर का बनना है. भारो और मोबाइल घण्टियों, दूरदर्शन, इंटरनेट से निकल रही आवाजे कोलाहल उत्पन्न कर रही है. इससे आदमी का आराम समाप्त हो रहा है. सब नियंत्रण मानव के हाथ में है. उसे संचार क्रान्ति की शोर-शराबा संस्कृति से बचना होगा, तभी वह इसके लाभों को भली-भांति प्राप्त कर सकेगा

Read More –

संक्षेप में – 

दोस्तों उम्मीद है आपको संचार क्रांति और भारत पर निबंध अच्छा लगा होगा. अगर आपको यह निबंध कुछ काम का लगा है तो इसे जरूर सोशल मीडिया पर शेयर कीजिएगा.

अगर आप नई नई जानकारियों को जानना चाहते हैं तो MDS BLOG के साथ जरूर जुड़िए जहां की आपको हर तरह की नई-नई जानकारियां दी जाती है MDS BLOG पर यह पोस्ट पढ़ने के लिए बहुत-बहुत धन्यवाद!

यह पोस्ट कितनी उपयोगी थी ?

Average rating / 5. Vote count:

अब तक कोई वोट नहीं, इस पोस्ट को रेट करने वाले पहले व्यक्ति बनें

MDS Thanks 😃

पोस्ट अच्छी लगी तो सोशल मीडिया पर हमें फॉलो करें

हमें खेद है कि यह पोस्ट आपके लिए उपयोगी नहीं थी !

हमें बताएं कि हम इस पोस्ट को कैसे बेहतर बना सकते हैं ?

Related Articles

One Comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button

Please allow ads on our site !

Looks like you're using an ad blocker. We rely on advertising to help fund our site.