Internet

वर्ल्ड वाइड वेब (www) क्या है पूरी जानकारी

दोस्तों हम आज एक बार फिर हाज़िर हैं आपको कुछ नया सिखाने के लिए, क्या आप जानना चाहते हैं वर्ल्ड वाइड वेब क्या है – What is World wide web in Hindi या वेब क्या है या दूसरे शब्दों में कहें तो WWW क्या है? तो यह पोस्ट आपके लिए काफी लाभकारी है

नमस्कार दोस्तों मैं सुमित आपका MDS Blog में हार्दिक स्वागत करता हूं. आज मैं आपको वर्ल्ड वाइड वेब क्या है या वेब क्या है या फिर WWW क्या होता है? इसके बारे में आसान शब्द में जानकारी देने जा रहा हूं. आइए जानते हैं –

वर्ल्ड वाइड वेब क्या है – World wide web in Hindi

वर्ल्ड वाइड वेब क्या है - What is World wide web in Hindi या वेब क्या है या WWW क्या है?

वर्ल्ड वाइड वेब (www), जिसे वेब के रूप में भी जाना जाता है वेब सर्वर में संग्रहीत वेबसाइटों या वेब पेजों का एक संग्रह है जो इंटरनेट के माध्यम से स्थानीय कंप्यूटरों से जुड़ा है

इन वेबसाइटों में टेक्स्ट पेज, डिजिटल इमेज, ऑडियो, वीडियो आदि होते हैं. उपयोगकर्ता कंप्यूटर, लैपटॉप, सेल फोन आदि जैसे उपकरणों का उपयोग करके इंटरनेट पर दुनिया के किसी भी हिस्से से इन साइटों की सामग्री तक पहुंच सकते हैं. वर्ल्ड वाइड वेब (www), इंटरनेट के साथ आपके डिवाइस पर टेक्स्ट और मीडिया की पुनर्प्राप्ति और प्रदर्शन को सक्षम बनाता है

एक वेब पेज को एक ऑनलाइन पता दिया जाता है जिसे यूनिफ़ॉर्म रिसोर्स लोकेटर (यूआरएल) कहा जाता है. वेब पेजों का एक विशेष संग्रह जो किसी विशिष्ट URL से संबंधित होता है वेबसाइट कहलाता है. इसलिए वर्ल्ड वाइड वेब एक विशाल इलेक्ट्रॉनिक पुस्तक की तरह है जिसके पेज पर दुनिया भर में कई सर्वर्स संग्रहित है

छोटी वेबसाइटें अपने सभी वेबपेजों को एक ही सर्वर पर स्टोर करती हैं. लेकिन बड़ी वेबसाइटें या संगठन अपने वेबपेजों को अलग-अलग देशों में अलग-अलग सर्वरों पर रखते हैं ताकि जब किसी देश के उपयोगकर्ता अपनी साइट को खोजते हैं तो उन्हें निकटतम सर्वर से जानकारी जल्दी मिल जाती है

इसलिए, वेब उपयोगकर्ताओं को इंटरनेट पर जानकारी प्राप्त करने और आदान-प्रदान करने के लिए एक संचार मंच प्रदान करता है. एक किताब के विपरीत, जहां हम एक क्रम में एक पेज से दूसरे पेज पर जाते हैं, वर्ल्ड वाइड वेब पर हम वेब पेज पर जाने के लिए हाइपरटेक्स्ट लिंक्स के वेब का अनुसरण करते हैं

उस वेब पेज से दूसरे वेब पेजों पर जाने के लिए या वेब तक पहुँचने के लिए आपको एक ब्राउज़र की आवश्यकता होती है. जो आपके कंप्यूटर पर होता है

वर्ल्ड वाइड वेब और इंटरनेट में अंतर – WWW vs Internet in Hindi

कुछ लोग ‘इंटरनेट’ और ‘वर्ल्ड वाइड वेब’ शब्दों का परस्पर प्रयोग करते हैं. उन्हें लगता है कि यह दोनों शब्द एक ही है, लेकिन ऐसा नहीं है. इंटरनेट बिल्कुल वर्ल्ड वाइड वेब (www) से अलग है

इंटरनेट Laptop, Tablets और Computers आदि जैसे उपकरणों का एक ऐसा नेटवर्क है जो दुनिया भर में व्याप्त होता है. जिसकी सहायता से एक यूजर दूसरे यूजर को ईमेल भेजने के साथ साथ ऑनलाइन चैट भी करने में सक्षम होते हैं. उदाहरण के लिए जब आप कोई ईमेल भेजते हैं या किसी के साथ ऑनलाइन चैट करते हैं तो आप इंटरनेट का उपयोग कर रहे होते हैं

लेकिन, जब आपने जानकारी के लिए google.com जैसी वेबसाइट खोली है तो आप वर्ल्ड वाइड वेब का उपयोग कर रहे हैं. इंटरनेट पर सर्वरों का एक नेटवर्क, आप एक ब्राउज़र का उपयोग करके अपने कंप्यूटर से एक वेबपेज का अनुरोध करते हैं और सर्वर उस पेज को आपके ब्राउज़र में प्रस्तुत करता है

आपके कंप्यूटर को क्लाइंट कहा जाता है जो एक प्रोग्राम (वेब ब्राउज़र) चलाता है और दूसरे कंप्यूटर (सर्वर) से उसके लिए आवश्यक जानकारी मांगता है

वर्ल्ड वाइड वेब कैसे काम करता है – How does the WWW work

वर्ल्ड वाइड वेब कैसे काम करता है - How does the WWW work

अब, हम समझ गए हैं कि WWW इंटरनेट से जुड़ी वेबसाइटों का एक संग्रह है ताकि लोग जानकारी खोज और साझा कर सकें. अब आइए समझते हैं कि वर्ल्ड वाइड वेब कैसे काम करता है?

वेब (www), इंटरनेट के मूल क्लाइंट-सर्वर प्रारूप के अनुसार काम करता है. उपयोगकर्ताओं द्वारा अनुरोध किए जाने पर सर्वर वेब पेजों या सूचनाओं को नेटवर्क पर उपयोगकर्ता के कंप्यूटरों में संग्रहीत और स्थानांतरित करते हैं

एक वेब सर्वर एक सॉफ्टवेयर प्रोग्राम है जो एक ब्राउज़र का उपयोग करके वेब उपयोगकर्ताओं द्वारा अनुरोधित वेब पेजों की सेवा करता है. सर्वर से दस्तावेज़ों का अनुरोध करने वाले उपयोगकर्ता के कंप्यूटर को क्लाइंट के रूप में जाना जाता है

ब्राउज़र, जो उपयोगकर्ता के कंप्यूटर पर स्थापित है उपयोगकर्ताओं को पुनर्प्राप्त दस्तावेज़ देखने की अनुमति देता है. सभी वेबसाइटें वेब सर्वर में स्टोर की जाती हैं

जैसे कोई घर में किराए पर रहता है, वैसे ही वेबसाइट सर्वर में जगह घेरती है और उसमें स्टोर रहती है. जब भी कोई उपयोगकर्ता अपने वेबपेज का अनुरोध करता है तो सर्वर वेबसाइट को होस्ट करता है और वेबसाइट के मालिक को उसी के लिए होस्टिंग मूल्य का भुगतान करना पड़ता है

जैसे ही आप ब्राउज़र खोलते हैं और एड्रेस बार में URL टाइप करते हैं या Google पर कुछ सर्च करते हैं तो वर्ल्ड वाइड वेब (www) काम करना शुरू कर देता है. सर्वर से क्लाइंट (उपयोगकर्ताओं के कंप्यूटर) तक सूचना (वेब पेज) को स्थानांतरित करने में तीन मुख्य प्रौद्योगिकियां शामिल हैं. इन तकनीकों में हाइपरटेक्स्ट मार्कअप लैंग्वेज (HTML), हाइपरटेक्स्ट ट्रांसफर प्रोटोकॉल (HTTP) और वेब ब्राउज़र शामिल हैं

हाइपरटेक्स्ट मार्कअप लैंग्वेज (HTML) हिंदी में

HTML एक मानक मार्कअप भाषा है जिसका उपयोग वेब पेज बनाने के लिए किया जाता है. यह HTML तत्वों या टैग के माध्यम से वेब पेजों की संरचना का वर्णन करता है

इन टैग्स का उपयोग सामग्री के टुकड़ों को व्यवस्थित करने के लिए किया जाता है जैसे title, paragraph, table, image और बहुत कुछ

जब आप कोई वेब पेज खोलते हैं तो आपको HTML टैग नहीं दिखाई देते क्योंकि ब्राउज़र टैग प्रदर्शित नहीं करते हैं और उनका उपयोग केवल वेब पेज की सामग्री को प्रस्तुत करने के लिए करते हैं. सरल शब्दों में, HTML का उपयोग वेब ब्राउज़र के माध्यम से टेक्स्ट, छवियों और अन्य संसाधनों को प्रदर्शित करने के लिए किया जाता है

वेब ब्राउज़र क्या है – What is web browser in Hindi

एक वेब ब्राउज़र जिसे आमतौर पर एक ब्राउज़र के रूप में जाना जाता है एक प्रोग्राम है. जो टेक्स्ट, डेटा, चित्र, वीडियो, एनीमेशन और बहुत कुछ प्रदर्शित करता है. यह एक सॉफ्टवेयर इंटरफ़ेस प्रदान करता है जो आपको वर्ल्ड वाइड वेब (www) पर हाइपरलिंक्ड संसाधनों पर क्लिक करने की अनुमति देता है

जब आप इसे लॉन्च करने के लिए अपने कंप्यूटर पर स्थापित ब्राउज़र आइकन पर डबल क्लिक करते हैं और Google खोज सकते हैं या सर्च बार में एक URL टाइप कर सकते हैं. तो आप वर्ल्ड वाइड वेब से जुड़ जाते हैं

शुरुआत में, ब्राउज़रों का उपयोग उनकी सीमित क्षमता के कारण केवल ब्राउज़िंग के लिए किया जाता था. आज, वे अधिक उन्नत हैं ब्राउज़िंग के साथ आप उनका उपयोग ई-मेलिंग, मल्टीमीडिया फ़ाइलों को स्थानांतरित करने, सोशल मीडिया साइटों का उपयोग करने, और ऑनलाइन चर्चा समूहों में भाग लेने आदि के लिए कर सकते हैं

आमतौर पर उपयोग किए जाने वाले कुछ ब्राउज़रों में Google Chrome, Mozilla Firefox, Internet Explorer, Safari और बहुत कुछ शामिल हैं

हाइपरटेक्स्ट ट्रांसफर प्रोटोकॉल (HTTP) हिंदी में

हाइपर टेक्स्ट ट्रांसफर प्रोटोकॉल (HTTP) एक एप्लिकेशन लेयर प्रोटोकॉल है. जो WWW को सुचारू रूप से और प्रभावी ढंग से काम करने में सक्षम बनाता है. यह क्लाइंट-सर्वर मॉडल पर आधारित है. क्लाइंट एक वेब ब्राउज़र है जो वेबसाइट को होस्ट करने वाले वेब सर्वर से संचार करता है

यह प्रोटोकॉल परिभाषित करता है कि संदेशों को कैसे स्वरूपित और प्रसारित किया जाता है और विभिन्न आदेशों के जवाब में वेब सर्वर और ब्राउज़र को क्या कार्रवाई करनी चाहिए. जब आप ब्राउज़र में URL दर्ज करते हैं तो वेब सर्वर को एक HTTP कमांड भेजी जाती है और यह अनुरोधित वेब पेज को प्रसारित करता है

जब हम किसी ब्राउज़र का उपयोग करके वेबसाइट खोलते हैं तो वेब सर्वर से एक कनेक्शन खुल जाता है और ब्राउज़र HTTP के माध्यम से सर्वर से संचार करता है और एक अनुरोध भेजता है

सर्वर के साथ संचार करने के लिए HTTP को TCP/IP पर ले जाया जाता है. सर्वर ब्राउज़र के अनुरोध को संसाधित करता है और प्रतिक्रिया भेजता है और फिर कनेक्शन बंद हो जाता है. इस प्रकार, ब्राउज़र उपयोगकर्ता के लिए सर्वर से सामग्री प्राप्त करता है

संक्षेप में

दोस्तों उम्मीद है आपको यह पोस्ट वर्ल्ड वाइड वेब क्या है – What is world wide web (www) in Hindi अच्छी लगी होगी. अगर आपको यह जानकारी कुछ काम की लगी है तो इसे जरूर सोशल मीडिया पर शेयर कीजिएगा

अगर आप नई नई जानकारियों को जानना चाहते हैं तो MDS BLOG के साथ जरूर जुड़िए जहां की आपको हर तरह की नई-नई जानकारियां दी जाती है. MDS BLOG पर यह पोस्ट पढ़ने के लिए बहुत-बहुत धन्यवाद !

यह पोस्ट कितनी उपयोगी थी ?

Average rating / 5. Vote count:

अब तक कोई वोट नहीं, इस पोस्ट को रेट करने वाले पहले व्यक्ति बनें

MDS Thanks 😃

पोस्ट अच्छी लगी तो सोशल मीडिया पर हमें फॉलो करें

हमें खेद है कि यह पोस्ट आपके लिए उपयोगी नहीं थी !

हमें बताएं कि हम इस पोस्ट को कैसे बेहतर बना सकते हैं ?

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button

Please allow ads on our site !

Looks like you're using an ad blocker. We rely on advertising to help fund our site.