Hindi Speech

अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस पर भाषण हिंदी में

अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस पर भाषण (International Day Of Yoga Speech in Hindi) आज आपको यहाँ जानने को मिलेगा. तो चलो जानते है एक शानदार भाषण जोकि सबके दिलों को जीतेगा. लेकिन इससे पहले कुछ जरूरी पॉइंट पढ़े

दिवसअंतर्राष्ट्रीय योग दिवस
मनाया जाता हैहर साल 21 जून को
उद्देश्यजीवन में योग को महत्व देना
2023 की थीम“एक विश्व, एक स्वास्थ्य” या “One World, One Health”
पहली बार मनाया गया21 जून 2015 को
शुरुआत कीनरेन्द्र मोदी जी ने

अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस पर भाषण – International Day Of Yoga Speech in Hindi : 2023

अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस पर भाषण

आदरणीय प्रधानाचार्य महोदय, शिक्षकगण और मेरे प्यारे सहपाठियों को सुप्रभात एवं नमस्कार ! आज मैं अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस (International Day Of Yoga या IDY) के अवसर पर आप सभी को संबोधित करते हुए बहुत सम्मानित महसूस कर रहा हूं

यह वास्तव में भारत के लिए गर्व का क्षण है क्योंकि योग भारत में उत्पन्न एक प्राचीन प्रथा है. भारत के गुरु और तपस्वी युगों से योग का अभ्यास करते आ रहे हैं. इससे वे सभी शारीरिक और मानसिक रूप से लाभान्वित हुए हैं

संपूर्ण विश्व में प्रतिवर्ष 21 जून को अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस मनाया जाता है. 21 जून का यह दिन वर्ष का सबसे लम्बा दिन होता है और ज्योतिष विज्ञान के अनुसार आध्यात्मिक शक्ति प्राप्त करने का यह उचित समय है

पहली बार योग दिवस 21 जून 2015 को मनाया गया, जिसकी पहल भारत के प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने 27 सितम्बर 2014 को संयुक्त राष्ट्र महासभा में अपने भाषण से की थी. जिसके बाद 21 जून को “अन्तरराष्ट्रीय योग दिवस” घोषित किया गया

11 दिसम्बर 2014 को संयुक्त राष्ट्र के 177 सदस्यों द्वारा 21 जून को “अन्तरराष्ट्रीय योग दिवस” को मनाने के प्रस्ताव को मंजूरी मिली. प्रधानमंत्री मोदी के इस प्रस्ताव को 90 दिन के समय अंतराल में बहुमत से पारित किया गया, जो संयुक्त राष्ट्र संघ में किसी दिवस के प्रस्ताव के पारित होने के लिए सबसे कम समय है

योग संस्कृत शब्द ‘युज’ से बना है. योग का अर्थ है व्यक्तिगत चेतना या आत्मा की सार्वभौमिक चेतना या आत्मा से मिलन, यह मानवता के लिए एक उपहार है. आज के बच्चे भी बड़ों की तरह ही तनावग्रस्त हैं. स्कूलों और कॉलेजों में बढ़ती प्रतिस्पर्धा, साथियों के दबाव से निपटना, यौवन की कठिन अवस्था, पाठ्येतर गतिविधियाँ और माता-पिता और शिक्षकों की अपेक्षाओं को पूरा करना बच्चों के लिए बहुत तनावपूर्ण है

इस दबाव से निपटने का सबसे अच्छा तरीका योग का अभ्यास करना है. योग बच्चों की भावनाओं और व्यवहार को प्रभावित करता है. यह मानसिक स्थिति पर सकारात्मक प्रभाव डालता है और रचनात्मकता में सहायता करता है

आजकल वयस्क लोग ज्यादा तनाव से ग्रसित है और डिप्रेशन जैसी बीमारियां आम होती जा रही हैं. योग हमें स्वस्थ और तरोताजा रहने में एवं मन की शांति प्राप्त करने में मदद करता है. इस व्यस्त जीवन शैली में योग को अपनाकर ही एक स्वस्थ शरीर और स्वस्थ जीवन प्राप्त करना संभव है

अपनी स्थापना के बाद से, अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस न केवल भारत में बल्कि दुनिया के अन्य हिस्सों में भी बेहद लोकप्रिय हो गया है और दुनिया के दूरस्थ कोनों में भी उत्साहपूर्वक मनाया जाता है. भारत में अंतरराष्ट्रीय योग दिवस का पहला अनुष्ठान 2015 में 21 जून को पहली बार दुनिया भर के साथ मनाया गया, जो उल्लेखनीय था

सबसे पहले, यह अब तक की सबसे बड़ी रिकॉर्डेड योग क्लास थी जिसमें 35, 985 लोगों ने भाग लिया. स्वयं प्रधानमंत्री और 84 देशों के गणमान्य लोगों ने लगभग 35 मिनट तक विभिन्न आसन किए. जब राजपथ, नई दिल्ली में योग का लाइव प्रदर्शन किया गया, तो दुनिया भर में लाखों लोग भी अपने टीवी के सामने इसका प्रदर्शन कर रहे थे. यह सबसे बड़ी कवर की गई घटना थी जिसे ऐसी वैश्विक प्रतिक्रिया मिली थी जो लाजवाब थी

अलग-अलग देशों के लोग, पूरी तरह से अलग-अलग भाषाएँ बोलने वाले लोग एक ही कारण से इस दिन एकजुट होते हैं – अच्छा स्वास्थ्य प्राप्त करने के लिए. दुनिया ने हाल ही में योग की क्षमता को महसूस किया है इससे शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य को अनेक लाभ हो सकता है

योग से शरीर में आत्मविश्वास और सकारात्मक ऊर्जा का संचार होता है. योग से सकारात्मकता का भाव प्रवाहित होता हैं जिससे शरीर रोग का घर नहीं बन सकता. योग से हमारे शरीर की प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती हैं, मन शांत और एकाग्र रहता है. योग से मनोबल बढ़ता हैं तथा सकारात्मक भाव होने से हमारा मनोविकास भी होता है

इस साल 2023 के अंतरराष्ट्रीय योग दिवस का नेतृत्व, न्यूयॉर्क में संयुक्त राष्ट्र मुख्यालय में प्रधानमंत्री मोदी करने जा रहे हैं, ये अपने आप में हमारे देश के लिए बड़े ही गर्व की बात है. इस वर्ष अंतरराष्ट्रीय योग दिवस (IDY) का थीम “एक विश्व, एक स्वास्थ्य” (One World One Health) है जो “वसुधैव कुटुम्बकम” के सिद्धांत के साथ बड़े वैश्विक समुदाय के साथ जुड़ने का प्रयास करता है, और ये इस साल भारत की G20 की अध्यक्षता के शीर्षक से प्रेरित है

योग दिवस की इस थीम को केंद्रीय आयुष मंत्रालय द्वारा चुना गया है. इस वर्ष अंतरराष्ट्रीय योग दिवस वैश्विक जन संपर्क के साथ, ग्राम पंचायत, ग्राम सभाओं की सक्रिय भागीदारी के माध्यम से योग को भारत के प्रत्येक गांव तक ले जाने पर ध्यान केंद्रित करेगा

मैं यहाँ उपस्थित सभी लोगो से योग को अपने जीवन में नियमित रूप से अपनाने का आग्रह करता हूँ. आप सभी को इस अवसर पर अपने परिवारजनों और मित्रों को योग करने के लिए जागरूक बनाना है. इस उत्सव का उद्देश्य केवल हर साल 21 जून को योग करना नहीं है इसका वास्तविक उद्देश्य सभी को योग के प्रति जागरूक करना है

इस योग दिवस के अवसर पर आप सभी योग को अपने जीवन का अभिन्न हिस्सा जरूर बनाए तथा प्रण ले कि रोजाना योग करेंगे. अन्तर्राष्ट्रीय योग दिवस का उद्देश्य तभी सफल होगा जब सभी योग करने के लाभों के प्रति सजग होंगे और उसे रोज की दिनचर्या में अपनायेंगे

आइए उस परिवर्तन का हिस्सा बनें जो हमारे शारीरिक, मानसिक, स्वास्थ्य और आध्यात्मिक कल्याण में सहायक है. हम सब योग की महिमा को यथा सम्भव प्रसार करने की कोशिश करें, जिससे भारत को अपनी सांस्कृतिक विरासत पर और अधिक गर्व हो

आज के इस कार्यक्रम में उपस्थित सभी लोगो को योग दिवस की हार्दिक बधाई और शुभकामनाएं ! आप सभी को धन्यवाद देते हुए, मैं अपने वक्तव्य को एक उद्धरण के साथ यहीं समाप्त करना चाहूंगा :-

सुबह हो या शाम, रोज कीजिए योग
निकट ना आएगा, कभी आपके कोई रोग

धन्यवाद !
जय हिन्द !
जय भारत !

Read More :-

आज आपने सीखा

मुझे उम्मीद है अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस पर भाषण (International Yoga Day Speech in Hindi) आपको पसंद आया होगा. योग दिवस 2023 पर यह भाषण आपके लिए कितना उपयोगी था कमेंट बॉक्स में हमें जरूर बताएं !

यह पोस्ट कितनी उपयोगी थी ?

Average rating / 5. Vote count:

अब तक कोई वोट नहीं, इस पोस्ट को रेट करने वाले पहले व्यक्ति बनें

MDS Thanks 😃

पोस्ट अच्छी लगी तो सोशल मीडिया पर हमें फॉलो करें

हमें खेद है कि यह पोस्ट आपके लिए उपयोगी नहीं थी !

हमें बताएं कि हम इस पोस्ट को कैसे बेहतर बना सकते हैं ?

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker