Hindi Essay

योग का महत्व पर निबंध हिंदी में

क्या आप भी योग का महत्व पर निबंध – Essay on Importance of Yoga in Hindi लिखना चाहते हैं तो आपके लिए यह पोस्ट एकदम उचित है

हम सभी जानते हैं कि हमारे जीवन में योग की भूमिका कितनी अहम है. आज मैं आपको हमारे जीवन में योग का महत्व पर निबंध कैसे आप लिख सकते हैं इसके बारे में जानकारी दूंगा. तो आइए निबंध जानते हैं

1) योग का महत्व पर 10 वाक्य

  1. योग एक प्रकार का प्राचीन अभ्यास है
  2. योग करने से शरीर स्वस्थ रहता है
  3. योग से अनेकों बीमारियाँ ठीक होती हैं
  4. योग मन और शरीर दोनों को स्वस्थ रखता है
  5. योग शरीर को फुर्तीला और चुश्त रखता है
  6. योग से शरीर की शक्ति और सहनशक्ति दोनों मजबूत होती हैं
  7. गलत तरीके से किया गया योग शरीर पर गलत प्रभाव डालता है
  8. प्रतिवर्ष 21 जून को अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस मनाया जाता है
  9. योग से नकारात्मक विचार दूर जाते हैं और सकारात्मक विचार आते हैं
  10. सभी को योग अपनी दिनचर्या का एक महत्वपूर्ण हिस्सा बनाना चाहिए

2) योग का महत्व पर निबंध 500 शब्दों में

yog ka mahatva par nibandh

“योग के महत्व को जानों
स्वस्थ जीवन का मूल्य पहचानों”

 

प्रस्तावना

भारत में योग हजारों साल पहले विकसित हुआ था. तभी से योग का निरंतर अभ्यास किया जा रहा है. योग के अंतर्गत व्यायाम, ध्यान और योग आसन आते हैं

योग शरीर, मन और आत्मा को नियंत्रित करता है. योग की मदद से हम एक चुस्त एवं सेहतमंद शरीर पा सकते हैं

योग करके हम बहुत सी असाध्य बीमारियों से भी छुटकारा पा सकते हैं. आज योग केवल भारत में ही नहीं बल्कि सम्पूर्ण विश्व में किया जा रहा है

योग करने के लाभ

योग करने से मानव को अनेक लाभ होते हैं. योग के द्वारा मांसपेशियों में लचीलापन आता है. योग पाचन तंत्र को मजबूती प्रदान करता है. योग शरीर के अंगों को मजबूत करता है

योग के माध्यम से अस्थमा, मधुमेह, रक्तचाप और हृदय संबंधी बीमारियों का आसानी से इलाज किया जा सकता है. योग करने से चेहरे पर चमक आती है तथा मानसिक शांति की प्राप्ति होती है, जिससे एकाग्रता बढ़ती है

योग के द्वारा चिंता, तनाव तथा अवसाद जैसी समस्याओं से भी मुक्ति पाई जा सकती है. ऐसे ही अनगिनत फायदे हमें योग के द्वारा प्राप्त होते हैं

योग का महत्व

योग का मानव जीवन में बहुत अधिक महत्व है. योग के अंतर्गत मुख्य रूप से व्यायाम, ध्यान और योग-आसन शामिल होते हैं. योग को जीवन में शामिल करके हम बहुत से विकारों को बिना दवा के बिल्कुल ठीक कर सकते हैं. इससे दवा का हमारे शरीर पर जो बुरा असर पड़ने वाला था, हम उससे बच जाएंगे

अतः योग दवा का एक बेहतर विकल्प है. आज की व्यस्तता से भरी जिंदगी में हर दूसरे व्यक्ति को तनाव का अनुभव होने लगा है, जिससे मनुष्य की मानसिक शांति भंग हो रही है

योग दिमाग और मन दोनों को शांत कर सकता है. अतः योग करना आज के जीवन में अति महत्वपूर्ण है. प्रदूषण से भरे वातावरण से बचने हेतु भी योग एक सुलभ साधन प्रतीत होता है

उपसंहार

मनुष्य के स्वस्थ रहने हेतु योग एक बहुत ही उपयोगी अभ्यास है. यह तन और मन दोनों को तंदरूस्त रखता है. योग से आत्मशक्ति को बल मिलता है

आधुनिक व्यस्त जीवन में रोजाना कुछ समय योग को देना अति लाभकारी है. केवल भारत में ही नहीं बल्कि विदेशों में भी सभी योग के महत्व को समझकर इसे जीवन का अहम हिस्सा बना रहे हैं

अतः हम सभी को एक स्वस्थ जीवन हेतु प्रतिदिन योग अभ्यास करना चाहिए

“योग अपनाएं, आत्मशक्ति जगाएं”

Read More :

3) योग का महत्व पर निबंध 800 शब्दों में

 

“योग करने का लो संकल्प
स्वस्थ जीवन का यही विकल्प”

प्रस्तावना

योग एक ऐसी क्रिया है जो न सिर्फ मनुष्य को शारीरिक और मानसिक रूप से स्वस्थ रखने में उसकी मदद करती है, बल्कि आध्यात्मिक ज्ञान प्राप्त करने में भी सहायक होती है

योग के द्वारा कोई भी व्यक्ति पूर्ण रुप से निरोगी बन सकता है एवं सफल, स्वस्थ और शांतिपूर्ण तरीके से अपने जीवन का निर्वहन कर सकता है. नियमित योग करने के कई फायदे हैं इसलिए अब विश्व भर में योग को खास महत्व दिया रहा है

योग की उत्पत्ति

योग का जन्म प्राचीन भारत में हजारों साल पहले हुआ था. यह माना जाता है कि शिव पहले योगी या आदियोगी हैं

हजारों साल पहले हिमालय में कंटिसारोकर झील के तट पर आदियोगी ने अपने ज्ञान को महान सात ऋषियों के साथ साझा किया था क्योंकि इतने ज्ञान को एक व्यक्ति में रखना मुश्किल था

ऋषियों ने इस शक्तिशाली योग विज्ञान को दुनिया के विभिन्न हिस्सों में फैलाया जिसमें एशिया, उत्तरी अफ्रीका, मध्य पूर्व और दक्षिण अमेरिका शामिल हैं

योग प्रणाली की पूर्ण अभिव्यक्ति में भारत अग्रणी है. सिंधु-सरस्वती सभ्यता के जीवाश्म अवशेष प्राचीन भारत में योग की मौजूदगी का प्रमाण हैं. योग सिंधु घाटी सभ्यता, बौद्ध और जैन परंपराओं में शामिल है

सूर्य को वैदिक काल के दौरान सर्वोच्च महत्व दिया गया था और इसी तरह सूर्यनमस्कार का बाद में आविष्कार किया गया था

महर्षि पतंजलि को आधुनिक योग के पिता के रूप में जाना जाता है. हालाँकि उन्होंने योग का आविष्कार नहीं किया क्योंकि यह पहले से ही विभिन्न रूपों में था

उन्होंने इसे प्रणाली में आत्मसात कर दिया और सभी पहलुओं को एक निश्चित प्रारूप में शामिल किया जिसे योग सूत्र कहते हैं

योग का महत्व

कुछ सालो पहले सिर्फ आयुर्वेदिक रूप से ही योग को महत्त्व दिया जाता था. लेकिन वर्तमान में वैज्ञानिक रूप से भी योग को महत्त्व दिया जाता है

आज तो डॉक्टर भी अपने मरीज़ो को योग करने के लिए प्रोत्साहित करते है क्योकि इससे हमारे शरीर की रोग प्रतिरोधक शक्ति बढ़ती है और शरीर रोगमुक्त बनता है

इसीलिए तो योग को मनुष्य का शारीरिक और मानसिक उपचार कहा जाता है. योग करने से मनुष्य की रीढ़ की हड्डी मे लचीलापन आता है जिससे हमारी शारीरिक स्थिति हमेशा स्वस्थ रहती है

योग हमारे अंदर ध्यान और एकाग्रता को बढ़ाता है. योग मनुष्य के शरीर को अनुशासन मे लाकर तनाव और चिंता को दूर करने में मदद करता है

एक रिपोर्ट के अनुसार दुनिया मे करीब 2 अरब से भी ज्यादा लोग हर रोज योगाभ्यास करते है. योग त्वचा को चमकाने में भी मदद करता है

योग शक्ति और सहनशक्ति को बढ़ावा देता है. मन और विचार नियंत्रण में मदद करता है. योग अवसाद पर काबू पाने के लिए मन शांत रखता है

रक्त परिसंचरण और मांसपेशियों के विश्राम में मदद करता है. वजन घटाने में भी मदद करता है योग

यह सब योग के लाभ हैं. योग स्वास्थ्य और आत्म चिकित्सा के प्रति आपके प्राकृतिक प्रवृत्ति पर ध्यान केंद्रित करता है. योग सत्र में मुख्य रूप से व्यायाम, ध्यान और योग आसन शामिल होते हैं जो विभिन्न मांसपेशियों को मजबूत करते हैं

दवाओं, जो हमारे मानसिक और शारीरिक स्वास्थ्य के लिए हानिकारक है, से बचने का यह एक अच्छा विकल्प है

योग एक बहुत ही उपयोगी अभ्यास है जिसे करना बहुत आसान है और यह कुछ गंभीर स्वास्थ्य समस्याओं, जो आज के जीवन शैली में सामान्य हैं, से भी छुटकारा पाने में मदद करता है

योग दिवस

योग से दुनिया के हर व्यक्ति को लाभ होना चाहिए, ऐसा भारत का लक्ष्य है. इसीलिए भारत के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी ने 21 जून 2015 के दिवस को अंतराष्ट्रीय योग दिवस के रुप में मनाने की घोषणा की थी

जिसमे पहली बार लगभग विश्व के 192 देशों ने विश्व योग दिवस मनाया था. इसी दिन भारत की राजधानी दिल्ली में करीब 35985 लोगों ने एक साथ योग किया जिसमे 84 देशों के प्रतिनिधि मौजूद थे

उपसंहार

मनुष्य को हर तरह से सुखी रखने में योग अपनी महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है. योग करने के अनगिनत फायदे हैं. योग, मनुष्य के शरीर को स्वस्थ रखता है एवं मन को पवित्र रखता है

योग एक अद्भुत क्रिया है जिसके द्वारा मनुष्य अपने मन और मस्तिष्क को नियंत्रण में रख सकता है. वहीं आज जिस तरह की मनुष्य की जीवनशैली हो गई, उसमें योग के माध्यम से ही संतुलन बनाया जा सकता है

प्रति दिन 20-30 मिनट योग आपके शारीरिक, मानसिक और आध्यात्मिक स्वास्थ्य के बीच संतुलन को बढ़ावा देने के द्वारा आपके जीवन को हमेशा के लिए बदल सकता है

Read More :-

संक्षेप में

मुझे उम्मीद है आपको योग का महत्व पर निबंध – Essay on Importance of Yoga in Hindi अच्छा लगा होगा. अगर आपको यह निबंध पसंद आया है तो इसे अपने दोस्तों के साथ भी शेयर कीजिएगा ताकि उन्हें भी योग का महत्व पर निबंध लिखना आ सके

अगर आप इसी तरह की जानकारियों को पढ़ना चाहते हैं तो MDS BLOG के साथ जरूर जुड़े. यह पोस्ट पढ़ने के लिए आपका बहुत-बहुत धन्यवाद !

यह पोस्ट कितनी उपयोगी थी ?

Average rating / 5. Vote count:

अब तक कोई वोट नहीं, इस पोस्ट को रेट करने वाले पहले व्यक्ति बनें

MDS Thanks 😃

पोस्ट अच्छी लगी तो सोशल मीडिया पर हमें फॉलो करें

हमें खेद है कि यह पोस्ट आपके लिए उपयोगी नहीं थी !

हमें बताएं कि हम इस पोस्ट को कैसे बेहतर बना सकते हैं ?

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button

Please allow ads on our site !

Looks like you're using an ad blocker. We rely on advertising to help fund our site.